Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185914
Date of publication : 25/2/2017 19:21
Hit : 165

अमेरिकन एयरपोर्ट पर विख्यात ऑस्ट्रेलियन लेखिका के साथ अपमानजनक व्यवहार।

फॉक्स बच्चों के लिए ३० से ज़्यादा किताबें लिख चुकी है उनकी किताब पस्म मैजिक की ३० लाख प्रतियां छप चुकी हैं ।


विलायत पोर्टल :
रिपोर्ट के अनुसार ऑस्ट्रेलियन लेखिका एम फॉक्स को एक अमेरिकी एयरपोर्ट पर बन्दी बना लिया गया है उन्होंने ईबीसी को दिए इंटरव्यु में कहा कि उन्होंने मुझसे बहुत से लोगों के सामने बिना किसी कारण के पूछताछ की। उन्होंने अमेरिकन अधिकारियों के दुर्व्यवहार पर प्रतक्रिया स्वरूप कभी अमेरिका न आने की बात कही है। कितनी ही बेस्ट सेलर बुक्स की ७० वर्षीया लेखिका फॉक्स अमेरिका में आयोजित एक कांफ्रेंस में भाग लेने जा रही थीं जब उन्हें लांस एंजेल्स एयरपोर्ट पर बन्दी बना लिया गया। ११६ बार अमेरिका यात्रा कर चुकी फॉक्स ने इस घटना पर कहा कि मुझे जीवन में कभी इतना अपमानित और अनादर नहीं किया गया उन्होंने इस घटना की शिकायत दर्ज कराई है।
ज्ञात रहे कि फॉक्स बच्चों के लिए ३० से ज़्यादा किताबें लिख चुकी है उनकी किताब पस्म मैजिक की ३० लाख प्रतियां छप चुकी हैं । ज्ञात रहे कि ट्रम्प के आव्रजन सम्बन्धी अध्यादेश पर अदालत ने रोक लगा दी थी तथा अमेरिका के विभिन्न नगरों में आप्रवासी अमेरिकियों विशेष कर मुसलमानों के समर्थन में ट्रम्प विरोधी प्रदर्शन होते रहे हैं ।
 ..............
 प्रेस टीवी


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

भारत पहुँच रहा है वर्तमान का यज़ीद मोहम्मद बिन सलमान, कई समझौतों पर होंगे हस्ताक्षर । ईरान के कड़े तेवर , वहाबी आतंकवाद का गॉडफादर है सऊदी अरब अर्दोग़ान का बड़ा खुलासा, आतंकवादी संगठनों को हथियार दे रहा है नाटो। फिलिस्तीन इस्राईल मद्दे पर अरब देशों के रुख में आया है बदलाव : नेतन्याहू बहादुर ख़ानदान की बहादुर ख़ातून यह 20 अरब डॉलर नहीं शीयत को नाबूद करने की साज़िश की कड़ी है पैग़म्बर स.अ. की सीरत और इमाम ख़ुमैनी र.अ. की विचारधारा शिम्र मर गया तो क्या हुआ, नस्लें तो आज भी बाक़ी है!! इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें हज़रत फ़ातिमा ज़हरा स.अ. के घर में आग लगाने वाले कौन थे? अहले सुन्नत की किताबों से एक बेटी ऐसी भी.... फ़र्ज़ी यूनिवर्सिटी स्थापित कर भारतीय छात्रों को गुमराह कर रही है अमेरिकी सरकार । वह एक मां थी... क़ुर्आन को ज़हर बता मस्जिदें बंद कराने का दम भरने वाले डच नेता ने अपनाया इस्लाम । तुर्की के सहयोग से इदलिब पहुँच रहे हैं हज़ारो आतंकी ।