Saturday - 2018 June 23
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185632
Date of publication : 12/2/2017 17:5
Hit : 165

ईरान क्षेत्रीय देशों के लिए आशा की किरणः हिज़्बु्ल्लाह

साम्राज्यवाद के अधीन रहना हमारा भाग्य नहीं है अत्याचार से मुक़ाबला कर के अपना भविष्य संवारा जा सकता है क्षेत्र के देश अगर विकास और शांति चाहते हैं तो उन्हें ईरान का सहयोग करना चाहिए।


विलायत पोर्टल :
हिज़्बुल्लाह के उप प्रमुख शैख़ क़ासिम नईम का कहना है कि ईरान ने क्षेत्र की जनता के दिलों में आशा जगा दी है। ईरान ने क्षेत्र को पराजयों के युग से निकाल कर विजयपथ पर ला खड़ा किया है। उन्होंने ईरान के स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में साऊथ बैरूत में आयोजित एक सम्मलेन में कहा कि ईरान ने पूरब पश्चिम गुट से अलग रहकर साम्राज्यवाद और ज़ायोनी अतिक्रमण से जूझ रही क्षेत्र की जनता का समर्थन किया।
ईरान ने क्षेत्र की जनता के दिलों में उम्मीदें जगाईं और उन्हें यह भरोसा दिलाया कि परिवर्तन असंभव नहीं है। साम्राज्यवाद के अधीन रहना हमारा भाग्य नहीं है अत्याचार से मुक़ाबला कर के अपना भविष्य संवारा जा सकता है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के देश अगर विकास और शांति चाहते हैं तो उन्हें ईरान का सहयोग करना चाहिए। उन्होंने इस्राईल को ईरान के हाथों हारा हुआ बताते हुए कहा कि एक दिन ईरान क्षेत्र में अमेरिका के थानेदार की भूमिका में था लेकिन इस्लामी क्रांति के बाद इस्लामी राष्ट्रों के संरक्षक कि भूमिका में आ गया है।
हिज़्बुल्लाह को गर्व है कि उसे ईरान का सहयोग प्राप्त है तथा ईरान ने इसके बदले में हिज़्बुल्लाह या लेबनान से कोई मांग नहीं की है। ....................
तसनीम न्यीज़


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :