Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 183456
Date of publication : 17/9/2016 16:27
Hit : 285

अगले युद्ध में हिज़्बुल्लाह के मुक़ाबले में इस्राईली सेना को हार का डर।

इस्राईली सेना ने लेबनान के हिज़्बुल्लाह संगठन के साथ अगले संभावित युद्ध में अपनी क्षमता की ताज़ा समीक्षा में तेल अवीव की अक्षमता की ख़बर देते हुए कहा है कि इस युद्ध में इस्राईल को कम से कम दस हज़ार मीज़ाइलों का सामना होगा और वह उनके मुक़ाबले में टिक नहीं पाएगा।

विलायत पोर्टलः इस्राईली सेना ने लेबनान के हिज़्बुल्लाह संगठन के साथ अगले संभावित युद्ध में अपनी क्षमता की ताज़ा समीक्षा में तेल अवीव की अक्षमता की ख़बर देते हुए कहा है कि इस युद्ध में इस्राईल को कम से कम दस हज़ार मीज़ाइलों का सामना होगा और वह उनके मुक़ाबले में टिक नहीं पाएगा। ज़ायोनी शासन के चैनल नंबर दस ने रिपोर्ट दी है कि इस स्थिति में सबसे बुरी दशा यह है कि इस्राईल को ग़ज़्ज़ा में फ़िलिस्तीनी प्रतिरोध के बलों, हिज़्बुल्लाह, ईरान व सीरिया से लड़ना पड़ेगा। ज़ायोनी सेना ने कहा है कि अगली लड़ाई में कम से कम दस हज़ार मीज़ाइल और रॉकेट अतिग्रहित क्षेत्रों पर सीधे आ कर गिरेंगे। इस रिपोर्ट के एक दूसरे भाग में कहा गया है कि लम्बी व औसत दूरी के ग्राड समेत दो लाख तीस हज़ार मीज़ाइल इस्राईल की तरफ़ फ़ायर किए जाएंगे और आयरन डोम उन सभी को रोक पाने में सक्षम नहीं होगा। ज़ायोनी सेना ने इसी तरह युद्ध शुरू होने के तुरंत बाद हिज़्बुल्लाह की रिज़वान ब्रिगेड के इस्राईल में घुस जाने और लेबनान से मिलने वाली ज़ायोनी शासन की सीमा पर इस्राईली सेना के ठिकानों उसके क़ब्ज़े पर गहरी चिंता जताई है। ज़ायोनी सेना की रिपोर्ट में कहा गया है कि हिज़्बुल्लाह के पास सैकड़ों ड्रोन विमान हैं जिनमें से अनेक हमले की क्षमता रखते हैं और इस्राईल की वायु सेना उनसे मुक़ाबला करने पर मजबूर होगी। यह ऐसी स्थिति में है कि लेबनान के हिज़्बुल्लाह संगठन के महासचिव सैयद हसन नसरुल्लाह ने 33 दिवसीय युद्ध में ज़ायोनी शासन पर हिज़्बुल्लाह की विजय की दसवीं वर्षगांठ के अवसर पर 13 अगस्त को अपनी स्पीच में कहा था कि हिज़्बुल्लाह के मीज़ाइल अतिग्रहित फ़िलिस्तीन के किसी भी भाग को निशाना बनाने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा था कि वर्ष 2006 के युद्ध के बाद इस्राईल की सैन्य क्षमता धराशाही हो गई है और सभी पक्ष जानते हैं कि हिज़्बुल्लाह अब भी दक्षिणी लेबनान की सीमा पर मौजूद हैं।
.....................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

क़तर का बड़ा क़दम, ईरान और दमिश्क़ समेत 5 देशों का गठबंधन बनाने की पेशकश एमनेस्टी इंटरनेशनल ने आंग सान सू ची से सर्वोच्च सम्मान वापस लिया ईरान की सैन्य क्षमता को रोकने में असफल रहेंगे अमेरिकी प्रतिबंध : एडमिरल हुसैन ख़ानज़ादी फिलिस्तीन, ज़ायोनी हमलों में 15 शहीद, 30 से अधिक घायल ग़ज़्ज़ा में हार से बौखलाए ज़ायोनी राष्ट्र ने हिज़्बुल्लाह को दी हमले की धमकी आले सऊद ने अब ट्यूनेशिया में स्थित सऊदी दूतावास में पत्रकार को बंदी बनाया मैक्रॉन पर ट्रम्प का कड़ा कटाक्ष, हम न होते तो पेरिस में जर्मनी सीखते फ़्रांस वासी इस्राईल शांति चाहता है तो युद्ध मंत्री लिबरमैन को तत्काल बर्खास्त करे : हमास हश्दुश शअबी ने सीरिया में आईएसआईएस के खिलाफ अभियान छेड़ा, कई ठिकानों को किया नष्ट ग़ज़्ज़ा पर हमले न रुके तो तल अवीव को आग का दरिया बना देंगे : नौजबा मूवमेंट यमन और ग़ज़्ज़ा पर आले सऊद और इस्राईल के बर्बर हमले जारी फिलिस्तीनी दलों ने इस्राईल के घमंड को तोडा, सीमा पर कई आयरन डॉम तैनात अज़ादारी और इंतेज़ार का आपसी रिश्ता रूस इस्लामी देशों के साथ मधुर संबंध का इच्छुक : पुतिन आले खलीफा शासन ने 4 नागरिकों को मौत की सजा सुनाई