Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 183339
Date of publication : 7/9/2016 22:30
Hit : 534

ईरान ने अमेरीकी फ़ौजी जहाज़ को रास्ता बदलने पर किया मजबूर।

अमेरीकी रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने दावा किया है कि फ़ार्स की खाड़ी में आईआरजीसी का एक जहाज़, अमेरीका के एक सैनिक जहाज़ के बिल्कुल क़रीब पहुंच गया था जिसके चलते अमेरीकी जहाज़ को अपना रास्ता बदलना पड़ा।

विलायत पोर्टलः अमेरीकी रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने दावा किया है कि फ़ार्स की खाड़ी में आईआरजीसी का एक जहाज़, अमेरीका के एक सैनिक जहाज़ के बिल्कुल क़रीब पहुंच गया था जिसके चलते अमेरीकी जहाज़ को अपना रास्ता बदलना पड़ा। पेंटागन के दो अधिकारियों ने अपना नाम सामने न लाए जाने की शर्त पर बताया कि चार सितम्बर को फ़ार्स की खाड़ी के केंद्रीय क्षेत्र में इस्लामी रिवाल्यूशन सुरक्षा बल आईआरजीसी का एक जहाज़ सीधे अमेरीका के गश्ती जहाज़ यूएसएस फ़ायरबोल्ट की तरफ़ बढ़ने लगा और उससे 90 मीटर की दूरी तक पहुंच गया था। उन्होंने कहा कि ईरानी जहाज़ की यह हरकत असुरक्षित और ग़ैर पेशेवराना थी। पेंटागन के इन अधिकारियों ने दावा किया कि अमेरीकी जहाज़ ने तीन बार आईआरजीसी के जहाज़ से संपर्क की कोशिश की लेकिन उसे कोई जवाब नहीं मिला। ईरान ने अभी तक इस रिपोर्ट की पुष्टि या खंडन नहीं किया है। अमेरीकी सेना ने अगस्त में भी एक वीडियो जारी किया था जिसमें आईआरजीसी की चार स्पीड बोट्स को हुर्मुज़ स्ट्रेट में एक अमेरीकी युद्ध पोत के पास होते हुए दिखाया गया था। इस पर ईरान के रक्षा मंत्री ने जवाब देते हुए कहा था कि फ़ार्स की खाड़ी और दूसरे जल सीमाओं में देश की रक्षा का दायित्व हमारी नौसेना इकाइयों पर है और ईरान की स्पीड बोट्स अजनबी जहाज़ों की गतिविधियों पर नज़र रखने के लिए स्वाभाविक रूप से इन क्षेत्रों में लगातार गश्त करती रहती हैं। उन्होंने कहा कि हमारी जल सीमा में प्रवेश करने वाले हर पोत को हम वार्निंग देते हैं और अगर इसके बाद भी वह आगे बढ़े तो फिर हम मुक़ाबला करते हैं। ................तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हश्दुश शअबी का आरोप , आईएसआईएस को इराकी बलों की गोपनीय जानकारी पहुंचाता था अमेरिका ईरान के पयाम सैटेलाइट ने इस्राईल और अमेरिका को नई चिंता में डाला सीरिया की स्थिरता और सुरक्षा, इराक की सुरक्षा का हिस्सा : बग़दाद आले सऊद की नई करतूत , सऊदी अरब में खुले नाइट कलब और कैसीनो । अमेरिका ने सीरिया से भाग कर ईरान, रूस और बश्शार असद को शक्तिशाली किया । ज़ुबान के इस्तेमाल के फ़ायदे और नुक़सान । सीरिया के विभाजन की साज़िश नाकाम, अमेरिका ने कुर्दों को दिया धोखा । सीरिया में अमेरिका का स्थान लेंगी मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात की सेना । बैतुल मुक़द्दस से उठने वाली अज़ान की आवाज़ पर लगेगी पाबंदी । दमिश्क़ की ओर पलट रहे हैं अरब देश, इस्राईल हारा हुआ जुआरी : ज़ायोनी टीवी शहीद बाक़िर अल निम्र, वह शेर मर्द जिसका नाम सुनकर आज भी लरज़ जाते हैं आले सऊद बश्शार असद की हत्या ज़ायोनी चीफ ऑफ स्टाफ की पहली प्राथमिकता ? यमन के सक़तरी द्वीप पर संयुक्त अरब अमीरात की नज़र क़तर के पूर्व नेता का सवाल, सऊदी अरब में कोई बुद्धिमान है जो सोच विचार कर सके ? अंसारुल्लाह का आरोप , यमन के लिए दूषित भोजन खरीद रहा है डब्ल्यू.एच.पी