Wed - 2018 Sep 19
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 182944
Date of publication : 17/7/2016 18:24
Hit : 157

इस्राईल ने ग़ज़्ज़ा पट्टी पर घेराबंदी को और बढ़ाया।

इस्राईल ने ग़ज़्ज़ा पट्टी के परिवेष्टन को इस तरह से कड़ा कर दिया है कि उसने व्यापार करने के एक तिहाई लाइसेन्स को रद्द कर दिया है।

विलायत पोर्टलः फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ जायोनी शासन की युद्धोन्मादी नीतियां जारी हैं और इसी परिप्रेक्ष्य में उसने ग़ज़्ज़ा पट्टी की घेराबंदी को और कड़ा कर दिया है। इस्राईल ने ग़ज़्ज़ा पट्टी के परिवेष्टन को इस तरह से कड़ा कर दिया है कि उसने व्यापार करने के एक तिहाई लाइसेन्स को रद्द कर दिया है। इस्राईल के आंतरिक सुरक्षा संगठन शाबाक ने धीरे- धीरे पिछले महीनों में व्यापार करने वाले सैकड़ों फिलिस्तीनी व्यापारियों के लाइसेन्स को रद्द कर दिया है। जायोनी शासन ने इसी तरह ग़ज़्ज़ा पट्टी में चीज़ों के आयात- निर्यात को बहुत सीमित कर दिया है और यह विषय ग़ज़्ज़ा पट्टी की आर्थिक स्थिति के और विषम होने की वजह बना है। इसी तरह ग़ज़्ज़ा पट्टी के परिवेष्टन के कड़ा करने से इस पट्टी में चीज़ों का आयात करने वाले व्यापारिकों भारी नुक़सान पहुंचा है। साल 2007 से ग़ज़्ज़ा पट्टी का परिवेष्टन जारी है और व्यवहारिक रूप से इस पट्टी के 15 लाख लोगों को ज़रूरी वस्तुओं की भारी कमी का सामना है और परिवेष्टन के और ज़्यादा कड़ा कर दिए जाने से इस इलाक़े में मानवीय संकट उत्पन्न होने की चिंता में वृद्धि हो गई है। ग़ज़्ज़ा पट्टी के परिवेष्टन के जारी रहने और इस्राईल द्वारा बारम्बार इस पट्टी पर हमले जैसे कार्यों से इस इलाक़े में विषम मानवीय संकट उत्पन्न हो गया है। उल्लेखनीय है कि जायोनी शासन ने पिछले लगभग एक दशक से ग़ज़्ज़ा पट्टी का परिवेष्टन कड़ा कर रखा है और ईंधन तथा ज़रूरी चीज़ों को इस इलाक़े में जाने की इजाज़त नहीं दे रहा है जिससे यह इलाक़ा मानव त्रासदी के मुहाने पर पहुंच चुका है। अगर जायोनी शासन फिलिस्तीनी जनता के साहसिक प्रतिरोध के कारण साल 2005 में ग़ज़्ज़ा पट्टी से पीछे हट गया लेकिन व्यवहारिक रूप से उसने अपनी नाकामी को छिपाने और फिलिस्तीनियों को अपनी मांगों के समक्ष झुका देने के लिए इस इलाक़े में अपनी मानवता विरोधी कार्यवाहियों को वैसे जारी रखे हुए है।
........................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :