Monday - 2018 June 18
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 182919
Date of publication : 13/7/2016 18:13
Hit : 274

ईरान के ख़िलाफ़ तुर्की अल-फ़ैसल के बयान पर फ़िलिस्तीनी गुटों ने जताई प्रतिक्रिया।

सऊदी अरब के ख़ूफ़िया एजेंसी के पूर्व प्रमुख तुर्की अलफ़ैसल के ईरान के ख़िलाफ़ बयान पर फ़िलिस्तीनी गुटों की तरफ़ से प्रतिक्रिया का क्रम जारी है।


विलायत पोर्टलः सऊदी अरब के ख़ूफ़िया एजेंसी के पूर्व प्रमुख तुर्की अलफ़ैसल के ईरान के ख़िलाफ़ बयान पर फ़िलिस्तीनी गुटों की तरफ़ से प्रतिक्रिया का क्रम जारी है। फ़िलिस्तीन की आज़ादी जनमोर्चा संगठन ने तुर्की अलफ़ैसल के पेरिस में आतंकवादी संगठन एमकेओ की बैठक में दिए गए बयान की भर्त्सना की है। समाचार एजेंसी फ़ार्स के अनुसार, फ़िलिस्तीन की आज़ादी जनमोर्चा ने मंगलवार को एक बयान में, तुर्की फ़ैसल के ईरान विरोधी बयान को ज़ायोनी दुश्मन के दृष्टिकोण से समन्वित और हक़ीक़त को बदलने के लिए दिया गया बयान बताया। फ़िलिस्तीन की आज़ादी जनमोर्चा ने इस बात पर ज़ोर दोकर कहा कि तुर्की अलफ़ैसल कुछ अरब देशों के साथ मिलकर अरब राष्ट्रों और ज़ायोनी शासन के बीच आपसी झड़प को शिया-सुन्नी मुसलमानों के बीच धार्मिक झड़प में बदलने की कोशिश में लगे हैं। फ़िलिस्तीन की आज़ादी जनमोर्चा ने कहा कि तुर्की अलफ़ैसल का यह बयान कि ईरान की तरफ़ से प्रतिरोध बल को समर्थन, ईलाक़े में उपद्रव की वजह बना है, प्रतिरोध की छवि को ख़राब करने के लिए दिया गया बयान है। इसी तरह इस बयान का ख़ास मक़सद, फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ इस्राईल के अपराधों पर पर्दा डालना है। मासूम रहे इससे पहले फ़िलिस्तीन के इस्लामी जेहाद आंदोलन और फ़िलिस्तीन अहरार आंदोलन ने भी सऊदी अरब के ख़ूफ़िया एजेंसी के पूर्व प्रमुख तुर्की अलफ़ैसल के ईरान विरोधी बयान को रद्द करते हुए इसे ज़ायोनी शासन के हितों में दिया गया बयान कहा है।
.........................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :