Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 182865
Date of publication : 5/7/2016 0:58
Hit : 276

फ़िलिस्तीनियों पर इस्राईल के ज़ुल्म बढ़ते जा रहे हैं।

फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ इस्राईल के ज़ुल्म में हर दिन बढ़ोत्तरी देखने में आ रही है। मिली रिपोर्ट के अनुसार, इस साल की शुरूआत से फ़िलिस्तीनियों की गिरफ़्तारियों में लगातार वृद्धि हो गई है।
विलायत पोर्टलः फ़िलिस्तीनियों के ख़िलाफ़ इस्राईल के ज़ुल्म में हर दिन बढ़ोत्तरी देखने में आ रही है। मिली रिपोर्ट के अनुसार, इस साल की शुरूआत से फ़िलिस्तीनियों की गिरफ़्तारियों में लगातार वृद्धि हो गई है। फ़िलिस्तीनी क़ैदियों और रिहाई पाने वालों के मामलों की निगरानी करने वाली समिति ने कहा है कि 2016 के पहले छः महीनों में ज़ायोनी शासन ने 3,445 फ़िलिस्तीनियों को गिरफ़्तार किया है और जेल की सलाख़ों के पीछे डाल दिया है। नाजाएज़ क़ब्ज़े वाले फ़िलिस्तीनी इलाक़ों में गिरफ़्तार होने वाले फ़िलिस्तीनियों की यह संख्या 2015 में में गिरफ़्तार होने वालों की तुलना में 50 प्रतिशत ज़्यादा है। अभी भी 7,500 से ज़्यादा फ़िलिस्तीनी, इस्राईली जेलों में क़ैद हैं। ज़ायोनी शासन ने फ़िलिस्तीनियों पर अपने अत्याचारों में ऐसी स्थिति में वृद्धि की है कि जब अमेरीका ने इस्राईल को दी जाने वाली मदद में बढ़ोत्तरी का ऐलान किया है। अमेरीकी राष्ट्रपति की सलाहकार सूज़ैन राइस का कहना है कि वाइट हाऊस ने अमेरीकी कांग्रेस को ख़त लिखकर कहा है कि अमेरीकी सरकार इस्राईल को दी जाने वाली वर्तमान मदद की दर में वृद्ध करने के लिए तैयार है, जिसके समझौते की अवधि 2018 में ख़त्म हो रही है। वर्तमान समझौतै के मुताबिक़, अमेरीका हर साल इस्राईल को 3 अरब डॉलर की मदद करता है, लेकिन दस सालों के नए समझौते की बुनियाद पर इस्राईल, अमेरीका से अब तक की सबसे ज़्यादा फ़ौजी मदद लेने वाला देश बन जाएगा। अमेरीका से मिलने वाली मदद के ख़र्च में इस्राईल को अभूतपूर्व आज़ादी दी गई है, सिर्फ़ इतना ही नहीं बल्कि कांग्रेस हर साल इस मदद में बढ़ोत्तरी कर सकती है। अमेरीका अलग-अलग तरीक़ों से अत्याचारी ज़ायोनी शासन को शक्तिशाली बनाना चाहता है। वाशिंग्टन का यह क़दम इस शासन के अत्याचारों में वृद्धि के लिए हरी झंडी समझी जाती है। अमेरीका इस नाजाएज़ शासन के अस्तित्व में आने के बाद से ही उसका सबसे महूत्वपूर्ण सहयोगी रहा है और उसने उसकी सबसे ज़्यादा मदद की है। 
......................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

अमेरिका यमन युद्ध के नाम पर सऊदी अरब से वसूली को तैयार सऊदी अरब का युवराज मोहम्मद बिन सलमान है जमाल ख़ाशुक़जी का हत्यारा : निक्की हैली अमेरिका में पढ़ने वाले ईरानी अधिकारियों के बच्चों को निकालेगा वाशिंगटन दमिश्क़ का ऐलान,अपना उपग्रह लांच करने के लिए तैयार है सीरिया । ख़ाशुक़जी कांड से हमारा कोई संबंध नहीं , सेंचुरी डील पर ध्यान केंद्रित : जॉर्ड किश्नर हिज़्बुल्लाह - इस्राईल तनाव, लेबनान ने अवैध राष्ट्र सीमा पर सेना तैनात की । सेना की संभावित कार्रवाई से नुस्राह फ्रंट में दहशत, बु कमाल में मिली सामूहिक क़ब्रें आले सऊद और अरब शासकों को उलमा का कड़ा संदेश, इस्राईल से संबंधों को बताया हराम इस्राईल से मधुर संबंधों की होड़ लेकिन क़तर से संबंध सामान्य न करने पर ज़ोर ! काबे के सेवक इस्लाम दुश्मनों से दोस्ती और मुसलमानों से दुश्मनी न करें : आयतुल्लाह ख़ामेनई ईरान को झुकाने की हसरत अपनी क़ब्रों में ले जाना : आईआरजीसी हिज़्बुल्लाह के साथ खड़ा है लेबनान का क्रिश्चियन समाज : इलियास मुर्र ओमान के आसमान में उड़ान भरेंगे इस्राईल के विमान ज़ायोनी आतंक, पोस्टर लगा कर दी फ़िलिस्तीनी राष्ट्रपति की हत्या की सुपारी । महिलाओं के अधिकार, इस्लाम और आधुनिक सभ्यता की निगाह में