Wed - 2018 Sep 19
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 182826
Date of publication : 26/6/2016 19:27
Hit : 279

आईएसआईएल को ईरान को हराने के लिए बनाया गया हैः सुप्रीम लीडर

सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनई ने ज़ोर दिया कि आतंकवादी गुट आईएसआईएल को इस्लामी रिपब्लिक ईरान को हराने करने के लिए बनाया गया, इराक़ और सीरिया ईरान को पटखनी देने की तैयारी थी लेकिन ईरान की ताक़त ने उन्हें ही लोहे के चने चबवा दिए।

विलायत पोर्टलः इस्लामी रिवाल्यूशन के सुप्रीम लीडर ने शनिवार की शाम सन 1981 में तेहरान में आतंकवादी हमले में शहीद होने वालों और सीरिया में हज़रत ज़ैनब के रौज़े की सुरक्षा के दौरान अपनी जान देने वालों के परिजनों से मुलाक़ात की। सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनई ने ज़ोर दिया कि आतंकवादी गुट आईएसआईएल को इस्लामी रिपब्लिक ईरान को हराने करने के लिए बनाया गया, इराक़ और सीरिया ईरान को पटखनी देने की तैयारी थी लेकिन ईरान की ताक़त ने उन्हें ही लोहे के चने चबवा दिए। सुप्रीम लीडर ने इस मुलाक़ात में कहा कि हक़ीक़त में ईरान के साथ असमान जंग में दुश्मन यह समझ ही नहीं पाते कि अल्लाह और उसकी राह में संघर्ष करने और ईमान में कितनी ताक़त है। सुप्रीम लीडर ने कहा कि जो पैग़म्बरे इस्लाम (स.अ.) के परिजनों के लिए आगे क़दम बढ़ाता है वह हक़ीक़त में अपने समाज और अपने नगर की रक्षा करता है और यह संघर्ष हक़ीक़त में ईरान की हिफ़ाज़त के लिए है। सुप्रीम लीडर ने कहा कि बहरैन में अत्याचारी व स्वार्थी अल्पसंख्यक, बहुसंख्यकों पर अत्याचार कर रहे हैं और अब तो उन्होंने ने वरिष्ठ धर्मगुरु शैख ईसा क़ासिम को भी निशाना बनाया है यह उनकी बहुत बड़ी भूल है। सुप्रीम लीडर ने कहा कि शैख ईसा क़ासिम हमेशा हिंसा व अतिवाद से रोका करते थे लेकिन बहरैन के इन बेवक़ूफ़ शासकों को यह नहीं समझ में आ रहा है कि शैख ईसा क़ासिम को रास्ते से हटाने का मतलब बहरैन के जोशीले युवाओं के सामने से रुकावट को ख़त्म करना है क्योंकि उनके बाद सरकार के खिलाफ़ ग़ुस्से में भरे इन जवानो को कोई नहीं रोक पाएगा।
...........................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :