×
×
×

अरबईन बिलियन मार्च और ज़ियारत के आदाब

अरबईन पर नजफ़ से कर्बला लगभग 80 किलोमीटर की दूरी के पैदल सफ़र से इस सफ़रे इश्क़ में और चार चांद लग जाते हैं, बच्चे, बूढ़े, जवान, औरत, मर्द सब इस अरबईन ...

आशूरा की तालीमात

कर्बला के इंक़लाब का सबसे अहम सबक़ आज़ादी और ज़ुल्म के आगे न झुकना है, इमाम हुसैन अ.स. ने फ़रमाया: इज़्ज़त की मौत ज़िल्लत की ज़िंदगी से बेहतर है, और इ ...

ज़ियारते आशूरा की करामात

इमाम मोहम्मद बाक़िर अ.स.ने फ़रमाया: ऐ अलक़मा जब तुम इमाम हुसैन अ.स. की ज़ियारत पढ़ना चाहो तो दो रकत नमाज़ अदा करो, तकबीर के बाद कर्बला की तरफ़ इशारा ...

वालेदैन के साथ नेकी इमाम रज़ा अ.स. की निगाह में

हर मुसलमान पर वाजिब है कि अपने वालेदैन के साथ नेकी करे उनसे अच्छा बर्ताव करे, अपनी पूरी कोशिश करे कि उनसे हमेशा मोहब्बत से मिले और उनसे हमेशा मोहब्बत ...

सेंटकाम ख़तरनाक मुसीबत में फंस गया....

जो हालात हम पिछले 1 महीने से देख रहे हैं उसके अनुसार अगर हर दिन बढ़ती हुई यह तकरार और यह टकराव युद्ध तक पहुंच गया तो मध्य पूर्व से परमाणु शक्ति और यूर ...

हज़रत मूसा अ.स. का असा वापस आ गया!!

आयतुल्लाह ख़ामेनई ने ट्रंप को ज़लील कर के सबको उसकी असली औक़ात दिखा दी और दुनिया वालों को बता दिया कि ट्रंप की ईरान के विरुद्ध गीदड़ भपकी के पीछे ईरान ...

अंगप्रदर्शन सबसे बड़ी जानलेवा बीमारी

सांस्कृतिक बीमारियों में से एक अंगप्रदर्शन है भी है कि जहां आज इंसान अपने नंगे घूमने को अपनी तरक़्क़ी से जोड़ कर देख रहा है जबकि उसका सीधा मतलब यह है ...

अली इब्ने यक़तीन

एक शख़्स का कहना है कि मुझे अली इब्ने यक़तीन ने एक ख़त देकर इमाम अ.स. के पास ले जाने को कहा, मैंने इमाम अ.स. के पास जाकर उनका ख़त पहुंचा दिया, उन्होंन ...

हज़रत फ़िज़्ज़ा र.अ.

आपकी विलादत के बारे में कोई भी जानकारी उपलब्ध नहीं हो सकी है, बस आपके वतन के बारे में जानकारी मौजूद है और उसमें भी इतिहास विशेषज्ञ एकमत नहीं हैं, लेकि ...

ईद की नमाज़ अहलेबैत अ.स. का हक़

आज के ज़मीर फ़रोश लीडरों और इस्लामी देशों के राजनेताओं जो मुसलमानों की आंखों में धूल झोंक कर अमेरिका और इस्राइल के हाथों बिक चुके हैं, ऐसे ज़ालिम, अत् ...

इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें

इमाम ख़ुमैनी र.ह. के नेतृत्व में ईरान के इस्लामी इंक़ेलाब की कामयाबी से दुनिया के दूसरे इलाक़ों में साम्राज्यवादी सिस्टम का भ्रष्टाचार और फ़ितना और फ़ ...

इमाम ख़ुमैनी र.ह. की ज़िंदगी पर एक निगाह

आप 19 साल तक अपने वतन ख़ुमैन में शुरूआती तालीम हासिल करते रहे, फिर उच्च स्तर की तालीम हासिल करने के लिए अराक गए वहां शैख़ अब्दुल करीम हायरी और आयतुल्ल ...

ईदुल फ़ितर ईद का दिन या अहलेबैत अ.स. के ग़म का?

यह तारीख़ी हक़ीक़त है कि मासूमीन अ.स. ईदुल फ़ितर और ईदुल अज़हा को ईद के दिन समझ कर गुज़ारते थे, और मासूमीन अ.स. के बाद भी हर दौर में ईदुल फ़ितर और ईदु ...

मस्जिदुल अक़्सा को लेकर अवैध राष्ट्र की साज़िश

फ़िलिस्तीन के वरिष्ठ पत्रकार सैफ़ुद्दीन नूफ़ेल का कहना है कि ज़ायोनी शासन ने अपनी स्थापना के शुरु से ही अपनी विस्तारवादी योजनाओं को पूरा करने के लिए य ...

इस्राईल फ़िलिस्तीन का असली मुद्दा क्या है?

दूसरे विश्व युद्ध के बाद जब अंग्रेज़ फ़िलिस्तीन छोड़ रहे थे तब यहूदियों ने UN में अपनी अर्जी दी के फ़िलिस्तीन की ज़मीन को दो हिस्सों में बांटा जाए और वहा ...

फॉलो अस
नवीनतम